दर्द शायरी - 99+ Best Broken Heart Sad Dard Shayari in Hindi 2019


Dard Shayari in Hindi : क्या आप अपने दर्द की feelings को प्रगट करने के लिए कुछ बहेतरीन दर्द भरी शायरी खोज रहे है ? अगर हा तो इस पोस्ट मे पढ़िये एक दम बेस्ट Dard Shayari in Hindi, English and Urdu मे Photos के साथ और इसे share कीजिये facebook, whatsapp, twitter और istagram पर। 

dard bhari shayari - pyar ka dard shayari,dard bhari shayari for girlfriend,pyar me dhokha shayari,2 line dard bhari shayari,bewafaai dard shayari,judai ki shayari,gam ki shayari,dard shayari with images,dard shayari in urdu,pyar ka dard shayari,dard shayari in english
Dard Bhari Shayari | प्यार का दर्द शायरी 

Dard Bhari Shayari | प्यार का दर्द शायरी 



दर्द या पीड़ा एक अप्रिय अनुभव होता है। इसका अनुभव कई बार किसी चोट, ठोकर लगने, किसी के मारने, किसी घाव में नमक या आयोडीन आदि लगने से होता है।[1] अंतर्राष्ट्रीय पीड़ा अनुसंधान संघ द्वारा दी गई परिभाषा के अनुसार "एक अप्रिय संवेदी और भावनात्मक अनुभव जो वास्तविक या संभावित ऊतक-हानि से संबंधित होता है; या ऐसी हानि के सन्दर्भ से वर्णित किया जा सके- पीड़ा कहलाता है".




वो लोग बहुत लकी होते हैं जिन्‍हें प्‍यार के बदले प्‍यार मिल जाता है जबकि कुछ लोगों को तो प्‍यार करने पर बस दर्द ही मिलता है। एकतरफा प्‍यार में क्‍यों मिलता है इतना दर्द ज़िंदगी कोई किताब नहीं है जिसका पन्‍ना पलट दिया जाए। 

Dard Bhari Shayari For Girlfriend

dard bhari shayari - pyar ka dard shayari,dard bhari shayari for girlfriend,pyar me dhokha shayari,2 line dard bhari shayari,bewafaai dard shayari,judai ki shayari,gam ki shayari,dard shayari with images,dard shayari in urdu,pyar ka dard shayari,dard shayari in english
Dard Bhari Shayari For Girlfriend

दिल के पहलू में एक दर्द सा पाने लगे,
जब अपने ही बेगाने से नजर आने लगे।

-

न थी जिसको मेरे प्यार की कदर,
इत्तेफ़ाक से उसी को चाह रहा था मैं,
उसी दिए ने जलाया मेरे हाथ को,
जिस को हवा से बचा रहा था मैं।




हर एक हसीन चेहरे में गुमान उसका था,
बसा न कोई दिल में ये मकान उसका था,
तमाम दर्द मिट गए मेरे दिल से लेकिन,
जो न मिट सका वो एक नाम उसका था।

-

तुम्हारी याद के साए मेरे दिल के अँधेरे में,
बहुत तकलीफ देते हैं मुझे जीने नहीं देते,
अकेली राह में हमराह कोई मिल तो जाता है,
मगर कुछ दर्द हैं जो दिल बहलने नहीं देते।

-

उसने दर्द इतना दिया कि सहा न गया,
उसकी आदत सी थी इसलिए रहा न गया,
आज भी रोती हूँ उसे दूर देख के,
लेकिन दर्द देने वाले से ये कहा न गया। 

-

जाने क्या लिखा है मेरी हाथों की लकीरों में,
मैं जहाँ भी जाता हूँ वहीं पर दर्द मिलता है।

-

ख़ामोशियाँ कभी बेवजह नहीं होती,
कुछ दर्द आवाज़ छीन लिया करते हैं।

-

चंद कलियों के मुस्कुराने से,
दर्द जागे कई पुराने से,
दो कदम मैं चल नहीं सकता,
तू ही आ जा किसी बहाने से।

-

उस शख्स का दर्द भी कोई सोचे,
जिसे रोता हुआ ना देखा हो किसी ने।

-

इलाज इश्क का क्या है हमें बताये कोई,
जो दर्द दिल में उठा है उसे मिटाए कोई,
तलाश उसकी मुझे हर जगह रहती है,
मिलेगा मुझको कहाँ वो जरा बताये कोई।

प्यार मे धोखा शायरी 

dard bhari shayari - pyar ka dard shayari,dard bhari shayari for girlfriend,pyar me dhokha shayari,2 line dard bhari shayari,bewafaai dard shayari,judai ki shayari,gam ki shayari,dard shayari with images,dard shayari in urdu,pyar ka dard shayari,dard shayari in english
प्यार मे धोखा शायरी

दिन को रात और सुबह को शाम कर लिया,
तेरी आशिक़ी ने किस्सा यूँ तमाम कर दिया।
पढ़ने में हाथ तंग तो हमेशा से रहा है,
उसको पढ़ने का ये नया काम सर लिया।
जीने की ख़्वाहिश लिये मरने लगे तुझ पर,
यूं हमने जीने-मरने का सब इंतजाम कर लिया।
ग़ुरूर भी रश्क़ करता था हम से इक ज़माने में,
आज रुसवाइयों ने कब्जा सरेआम कर लिया।
रौनक हुआ करते थे कभी महफिलों की हम,
तेरी जुदाई ने तन्हाई को मेरे नाम कर दिया।

-

मत पूछ ज़िन्दगी कैसे गुजरती है तन्हाई में,
आँखों से बरसते हैं आँसू उनकी जुदाई में,
न जाने किस जुर्म की सजा मिली है मुझे,
बहुत रोता है दिल मेरा उनकी बेवफाई में।


तुम्हें क्या बताये इश्क़ में मिलता है दर्द क्या...
मरहम भी पिघल जाते हैं ज़ख्म की गहराई देखकर।

-

दर्द ही दर्द है दिल में बयान कैसे करें,
ज़िंदगी ग़मों की गुलाम रिहा कैसे करें,
यूँ तो हमें हमारे दिल ने धोखे दिए बहुत,
पर अपने दिल से हम दगा कैसे करें। 

-

दिल का दर्द छुपाना कितना मुश्किल है,
ग़म में मुस्कुराना कितना मुश्किल है,
दूर तक जब चलो किसी के साथ,
फिर तन्हा लौट के आना कितना मुश्किल है।

-

कोइ इस दर्द-ए-दिल की दवा ला दो मुझे,
किसी पे ऐतबार न करूँ वो हुनर सिखा दो मुझे,
वैसे मैं हर एक खेल का शौक रखता हूँ,
दिलों से खेलना भी कोई सिखा दो मुझे।

-

हम रूठे हुए दिलों को मनाने में रह गए,
गैरों को दिल का दर्द सुनाने में रह गए,
मंज़िल हमारी हमारे करीब से गुज़र गई,
हम दूसरों को रास्ता दिखाने में रह गए।
-

न आरजू है न उल्फत है न दर्द अब कोई,
तुझे मुझसे शायद अब मोहब्बत भी न कोई।
दिल का शीशा जो टूटा तो चकनाचूर हुआ,
अब दिल के टूटे आईने में तस्वीर भी ना कोई।
समंदर सा बसा है आँखों के कोर तले,
अचानक ही बरस पड़ता है छुपा हुआ सावन कोई।
दिन भी काले शामें भी तन्हा रात गहरी उदासी सी,
नहीं सजाता अब इस तन्हा दिल में महफ़िल कोई।
एक हूक एक कसक सी उठती है दिल में जैसे,
ना आएगी अब लौट के खुशी कोई।
क्यों दिल लगाया जवानी के पागलपन में,
काश लौटा दे अब मेरा वो मासूम सा बचपन कोई। 

-

हर ज़ख्म किसी ठोकर की मेहरबानी है,
मेरी ज़िन्दगी की बस यही एक कहानी है,
मिटा देते सनम तेरे हर दर्द को सीने से,
पर ये दर्द ही तो तेरी आखिरी निशानी है।

-

नमक तुम हाथ में लेकर सितमगर सोचते क्या हो,
हजारों जख्म हैं दिल पर जहाँ चाहो छिड़क डालो।

दर्द भरी 2 Line Shayari

dard bhari shayari - pyar ka dard shayari,dard bhari shayari for girlfriend,pyar me dhokha shayari,2 line dard bhari shayari,bewafaai dard shayari,judai ki shayari,gam ki shayari,dard shayari with images,dard shayari in urdu,pyar ka dard shayari,dard shayari in english
दर्द भरी 2 Line Shayari

जितनी शिद्दत से मुझे ज़ख्म दिए है उसने,
इतनी शिद्दत से तो मैंने उसे चाहा भी नहीं था।

-

कोई हँसे तो तुझे ग़म लगे खुशी न लगे,
ये दिल की लगी थी दिल को दिल्लगी न लगे,
तू रोज उठ कर रोया करे चाँदनी रातों में,
खुदा करे कि तेरा भी मेरे बिना दिल न लगे।


उदासी जब तुम पर बीतेगी तो तुम भी जान जाओगे,
कोई नजर-अंदाज़ करता है तो कितना दर्द होता है।

-

एक नदिया है मजबूरी की
उस पार हो तुम इस पार हैं हम,
अब पार उतरना है मुश्किल
मुझे बेकल बेबस रहने दो।
कभी प्यार था अपना दीवाना सा
झिझक भी थी एक अदा भी थी,
सब गुजर गया एक मौसम सा
अब याद का पतझड़ रहने दो।
तुम भूल गए क्या गिला करें
तुम, तुम जैसे थे हम जैसे नहीं,
कुछ अश्क़ बहेंगे याद में बस
अब दर्द का सावन रहने दो।
तेरे सुर्ख लबों के रंग से फिर
मुझे बिखरे ख्वाब संजोने दो,
मैं हूँ प्यार का मारा बेचारा
मुझे बेकस बेखुद रहने दो।

-

दर्द के लम्हे कब हम पर आसान बने,
जो दर्द आँसू न बन सके वो तूफ़ान बने।

-

दिल पर ज़ख्म कुछ ऐसे मिले,
फूलों पर भी सोया न गया,
दिल तो जलकर राख हो गया,
और आँखों से रोया भी न गया।

-

महफ़िल भी रोएगी हर दिल भी रोयेगा,
डुबा कर मेरी कश्ती साहिल भी रोयेगा,
इतना प्यार बिखेर देंगे दुनिया में हम,
कत्ल करके हमारा कातिल भी रोयेगा।

-

किस्मत में लिखा थाआशना दर्द से होना,
तू ना मिलता तो किसी और से बिछड़े होते।

-

वो खून बनके मेरी रगों में मचलता है,
करूँ जो आह तो लब से धुँआ निकलता है,
मोहब्बत का रिश्ता भी अजीब है यारों,
ये ऐसा घर है जो बरसात में भी जलता है।

-

बज़्म-ए-वफ़ा में हमारी गरीबी न पूछिये,
एक दर्द-ए-दिल था वो भी किसी का दिया हुआ।

बेवफाई दर्द शायरी 

dard bhari shayari - pyar ka dard shayari,dard bhari shayari for girlfriend,pyar me dhokha shayari,2 line dard bhari shayari,bewafaai dard shayari,judai ki shayari,gam ki shayari,dard shayari with images,dard shayari in urdu,pyar ka dard shayari,dard shayari in english
बेवफाई दर्द शायरी

जो एक ज़रा सी बात पर रूठ गए हमसे,
वो हमारे दर्द की दास्तान क्या सुनते।

-

टूटे हुए सपने को सजाना आता है,
रूठे हुए दिल को मनाना आता है,
उसे कह दो हमारे जख्म की फ़िक्र न करे,
हमें दर्द में भी मुस्कुराना आता है।


काश उनको पता होता मेरे दर्दे दिल की चुभन,
तो वो हमको बार-बार न सताया करते,
जिस बात से हम उनसे रोज खफा होते हैं
तो वो बात हमसे न बताया करते,
ये बात भी ऐसी है जोकि कोई बात नहीं,
किसी गैर का नाम लेकर हमको न तड़पाया करतेl

-

अगर मैं लिखूं तो पूरी किताब लिख दूँ,
तेरे दिए हर दर्द का हिसाब लिख दूँ,
डरती हूँ कहीं तू बदनाम ना हो जाए,
वरना तेरे हर दर्द की कहानी मेरा हर ख्वाब लिख दूँ। 

-

खामोश फ़िज़ा थी कोई साया न था,
इस शहर में मुझसा कोई आया न था,
किसी ज़ुल्म ने छीन ली हम से हमारी मोहब्बत,
हमने तो किसी का दिल दुखाया न था।

-

लोग तो अपना बना कर छोड़ देते हैं,
कितनी आसानी से गैरों से रिश्ता जोड़ लेते हैं,
हम एक फूल तक ना तोड़ सके कभी,
कुछ लोग बेरहमी से दिल तोड़ देते हैं।

-

हाल-ए-दिल अब बताना मुश्किल हुआ,
दर्द-ए-दिल अब छुपाना मुश्किल हुआ।
मांगी थी रब से थोड़ी अपने लिए खुशी,
अब खुशियों को हमें पाना मुश्किल हुआ।
खामोशी में रहगुज़र भटकी सी जिंदगी,
अब अश्कों को आँखों में मिलना मुश्किल हुआ।
चाहत थीं हर खुशी में शरीक हो जो अपने,
अब उन्हीं से नजरें चुराना मुश्किल हुआ।
क्या खता थी मेरी जो समझ भी ना सके,
कब खुद को उन्हें समझना मुश्किल हुआ। 

-

मिले न फूल तो काँटों से जख्म खाना है,
उसी गली में मुझे बार-बार जाना है,
मैं अपने खून का इल्जाम दूँ तो किसको दूँ,
लिहाज ये है कि क़ातिल से दोस्ताना है।
-

एक दो ज़ख्म नहीं जिस्म है सारा छलनी
दर्द बेचारा परेशाँ है... कहाँ से निकले।

-

जब किसी का दर्द हद से गुजर जाता है
तो समंदर का पानी आँखों में उतर आता है,
कोई बना लेता है रेत से आशियाना तो,
किसी का लहरों में सबकुछ बिखर जाता है।

जुदाई की शायरी

dard bhari shayari - pyar ka dard shayari,dard bhari shayari for girlfriend,pyar me dhokha shayari,2 line dard bhari shayari,bewafaai dard shayari,judai ki shayari,gam ki shayari,dard shayari with images,dard shayari in urdu,pyar ka dard shayari,dard shayari in english
जुदाई की शायरी  

दर्द में जीने की हमें आदत कुछ ऐसी पड़ी,
कि अब दर्द ही अपना हमदर्द लगने लगा।

-

टूटे हुए काँच की तरह
चकना-चूर हो गया हूँ
किसी को चुभ न जाऊँ
इसलिए सबसे दूर हो गया हूँ।


जो दो लफ्जों की हिफाजत न कर पाए,
उनके हाथों में जिंदगी की किताब क्या देता।

-

मेरी जिंदगी की कहानी भी बड़ी मशहूर हुई,
जब मैं भी किसी के ग़म में चूर हुई,
मुझे इस दर्द के साथ जीना पड़ा,
कुछ इस कदर मैं वक़्त के हाथों मजबूर हुई।
मैंने जिसे भी चाहा अपना बनाना,
सबसे पहले वही चीज मुझसे दूर हुई,
एक बार जो गए फिर कहाँ मिले वो लोग,
जिनके बिना मेरी जिंदगी बेनूर हुई।
-

जब्त कहता है खामोशी से बसर हो जाये,
दर्द की ज़िद है कि दुनिया को खबर हो जाये।

-

यूँ तो हमेशा के लिए यहाँ आता नहीं कोई,
पर आप जिस तरह से गए वैसे जाता नहीं कोई।

-

दिल के तड़पने का कुछ तो सबब है आख़िर
या दर्द ने करवट ली है या तुमने इधर देखा है।

-

ये क्या है जो आँखों से रिसता है,
कुछ है भीतर जो यूं ही दुखता है,
कह सकता हूँ पर कहता भी नहीं,
कुछ है घायल जो यहाँ सिसकता है।

-

दर्द से हाथ न मिलाते तो और क्या करते,
गम के आँसू न बहाते तो और क्या करते,
उसने माँगी थी हमसे रौशनी की दुआ,
हम अपना घर न जलाते तो और क्या करते।

-

मसला ये नहीं है कि
दर्द कितना है,
मुद्दा ये है कि परवाह
किसको है।

गम की शायरी 

dard bhari shayari - pyar ka dard shayari,dard bhari shayari for girlfriend,pyar me dhokha shayari,2 line dard bhari shayari,bewafaai dard shayari,judai ki shayari,gam ki shayari,dard shayari with images,dard shayari in urdu,pyar ka dard shayari,dard shayari in english
गम की शायरी

धीरे धीरे से अब तेरे प्यार का दर्द कम हुआ,
ना तेरे आने के खुशी ना तेरे जाने का गम हुआ,
जब लोग मुझसे पूछते हैं हमारे प्यार की दास्तान,
कह देता हूँ एक फसाना था जो अब खत्म हुआ।

-

आ गई फिर वही एक और
अशिक की बरबादी की तारीख।
यही दिन था वह जब दिल टूटा
और मोहब्बत क़त्ल सरेआम हुई थी।


दर्द की दीवार पर अपनी फरियाद लिखा करते है,
ऐ खुदा उन्हें खुश रखना जिन्हें हम प्यार किया करते हैं।

-

ये क्या है, जो आँखों से रिसता है,
कुछ है भीतर, जो यूँ ही दुखता है,
कह सकता हूं, पर कहता भी नहीं,
कुछ है घायल, जो यहाँ सिसकता है।

-

अपनी तो जिंदगी की अजब कहानी है,
जिसे हमने चाहा वही हमसे बेगानी है,
हँसता हूँ दोस्तों को हँसाने के लिए,
वरना इन आँखों में पानी ही पानी है।

-

बहुत ईमानदार हो गया है ये बेईमान शहर,
दर्द की थैली से किसी ने सिक्का न उठाया।

-

दिल के सारे अरमान ले जाते हैं,
हमसे हमारी पहचान ले जाते हैं,
ना करना किसी से मोहब्बत दोस्त,
जान कहने वाले जान ले जाते हैं। 

-

चलो उनको मोहब्बत का खिताब दिया जाये,
कि उनके दिए हर ज़ख्म का हिसाब किया जाये।

-

दोस्त बन बन के मिले मुझको मिटाने वाले,
मैंने देखे हैं कई कई रंग बदलने वाले,
तुमने चुप रहकर सितम और भी ढाया मुझ पर,
तुमसे अच्छे हैं मेरे हाल पे हँसने वाले।

-

कितना और दर्द देगा बस इतना बता दे,
ऐसा कर ऐ खुदा मेरी हस्ती मिटा दे,
यूं घुट घुट के जीने से तो मौत बेहतर है,
मैं कभी न जागूं मुझे ऐसी नींद सुला दे।

Dard Bhari Shayari With Images

dard bhari shayari - pyar ka dard shayari,dard bhari shayari for girlfriend,pyar me dhokha shayari,2 line dard bhari shayari,bewafaai dard shayari,judai ki shayari,gam ki shayari,dard shayari with images,dard shayari in urdu,pyar ka dard shayari,dard shayari in english
Dard Bhari Shayari With Images

जिंदगी ने मेरे दर्द का क्या खूब इलाज सुझाया,
वक्त को दवा बताया, ख्वाहिशों से परहेज बताया।

-

कागज की कश्ती से पार जाने की ना सोच,
उड़ते हुए तूफानों को हाथ लगाने की ना सोच,
ये मोहब्बत बड़ी बेदर्द है इससे खेल ना कर,
मुनासिब हो जहाँ तक दिल बचाने की सोच।


दूर जाकर भी हम दूर जा न सकेंगे,
कितना रोयेंगे हम बता न सकेंगे,
ग़म इसका नहीं की आप मिल न सकोगे,
दर्द इस बात का होगा कि हम आपको भुला न सकेंगे।

-

जख्म जब मेरे सीने के भर जाएंगे,
आँसू भी मोती बन के बिखर जाएंगे,
ये मत पूछना किसने दर्द दिया,
वरना कुछ अपनों के चेहरे उतर जाएंगे।

-

जीत ले जो दिल वो नजर हम भी रखते हैं,
भीड़ में भी नजर आये वो असर हम भी रखते हैं,
यूँ तो हमने किसी को मुस्कुराने को कसम दी है,
वरना इन बदनसीब आँखों में समंदर हम भी रखते हैं।

-

आशियाँ बस गया जिनका, उन्हें आबाद रहने दो,
पड़े जो दर्द भरे छाले, जिगर में यूँ ही रहने दो,
कुरेदो ना मेरे दिल को, ये अर्जी है जहां वालों,
छिपा है राज अब तक जो, राज को राज रहने दो। 

-

बहारों के फूल एक दिन मुरझा जायेंगे,
भूले से कहीं याद तुम्हें हम आ जायेंगे,
अहसास होगा तुमको हमारी मोहब्बत का,
जब कहीं हम तुमसे बहुत दूर चले जायेंगे।

-

एक फ़साना सुन गए एक कह गए,
हम जो रोये तो मुस्कुराकर रह गए।

-

सजा कैसी मिली मुझको तुमसे दिल लगाने की,
रोना ही पड़ा है जब कोशिश की मुस्कुराने की,
कौन बनेगा यहाँ मेरी दर्द-भरी रातों का हमराज,
दर्द ही मिला जो तुमने कोशिश की आजमाने की।

-

रास्ते वही होंगे और नज़ारे वही होंगे,
पर हमसफ़र अब हम तुम्हारे नहीं होंगे।

Dard Shayari in Urdu

dard bhari shayari - pyar ka dard shayari,dard bhari shayari for girlfriend,pyar me dhokha shayari,2 line dard bhari shayari,bewafaai dard shayari,judai ki shayari,gam ki shayari,dard shayari with images,dard shayari in urdu,pyar ka dard shayari,dard shayari in english
Dard Shayari in Urdu

बदले तो नहीं हैं वो... दिल-ओ-जान के करीने,
आँखों की जलन, दिल की चुभन अब भी वही है।

-

खुद को औरों की तवज्जो का तमाशा न करो,
आइना देख लो अहबाब से पूछा न करो,
शेर अच्छे भी कहो, सच भी कहो, कम भी कहो,
दर्द की दौलत-ए-नायाब को रुसवा न करो।


बिखरे अरमान, भीगी पलकें और ये तन्हाई,
कहूँ कैसे कि मिला मोहब्बत में कुछ भी नहीं।

-

कहीं किसी रोज़ यूँ भी होता,
हमारी हालत तुम्हारी होती,
जो रात हमने गुज़ारी तड़प कर,
वो रात तुमने गुज़ारी होती।

-

क्या बताऊँ अपना हाल ए दिल मैं तुम्हें,
देखूं जिधर बस एक ही नूर नज़र आये,
अब बता भी दो दवा ए दर्द क्या है इसकी,
या फिर किसी जाल में फसाया है तुमने हमें।

-

मोहब्बत का घना बादल बना देता तो अच्छा था,
मुझे तेरी आँख का काजल बना देता तो अच्छा था,
तुझे पाने की ख्वाइश अब जीने नहीं देती,
खुदा तू मुझे पागल बना देता तो अच्छा था।
-

रिहाई दे दो हमें अपनी मोहब्बत की कफस से,
कि अब ये दर्द हमसे और सहा नहीं जाता। 

-

वो जो तुमसे रुबरु करवाता है,
आजकल वो आइना भी हमसे रूठा है।

-

हम तो जी रहे थे उनका नाम लेकर
वो गुज़रते थे हमारा सलाम लेकर
कल वो कह गये भुला दो हुमको
हमने पूछा कैसे...?
तो चले गये हाथो मे जाम देकरl

-

इलाजे-दर्दे-दिल तुमसे मसीहा हो नहीं सकता,
तुम अच्छा कर नहीं सकते मैं अच्छा हो नहीं सकता।

Pyar Ka Dard Shayari

dard bhari shayari - pyar ka dard shayari,dard bhari shayari for girlfriend,pyar me dhokha shayari,2 line dard bhari shayari,bewafaai dard shayari,judai ki shayari,gam ki shayari,dard shayari with images,dard shayari in urdu,pyar ka dard shayari,dard shayari in english
Pyar Ka Dard Shayari 

ख्वाहिश तो ना थी किसी से दिल लगाने की,
मगर जब किस्मत में ही दर्द लिखा था...
तो मोहब्बत कैसे ना होती।

-

बिजलियाँ टूट पड़ी... जब वो मुकाबिल से उठा,
मिल के पलटी थीं निगाहें कि धुआँ दिल से उठा।


दुनिया बहुत मतलबी है,
साथ कोई क्यों देगा,
मुफ्त का यहाँ कफ़न नहीं मिलता,
तो बिना गम के प्यार कौन देगा।
-

ज़िक्र उस का ही सही बज़्म में बैठे हो फ़राज़,
दर्द कैसा भी उठे हाथ न दिल पर रखना।

-

सीख रहा हूँ मै भी अब मीठा झूठ बोलने का हुनर,
कड़वे सच ने हमसे, ना जाने, कितने अज़ीज़ छीन लिए।

-

तू तब तक रूला सकती है हमें,
जब तक हम दिल मे बसाये हैं तुझे. 

-

जो नजर से गुजर जाया करते हैं,
वो सितारे अक्सर टूट जाया करते हैं,
कुछ लोग दर्द को बयां नहीं होने देते,
बस चुपचाप बिखर जाया करते हैं।

-

​ज़िस्म से मेरे तड़पता दिल कोई तो खींच लो​,
मैं बगैर इसके भी जी लूँगा मुझे अब ​ये यकीन ​है।

-

एक हसरत थी कि उनके दिल में पनाह मिलेगी,
क्या पता था उनसे मोहब्बत की सज़ा मिलेगी,
न अपनों ने समझा न गैरों ने जाना,
क्या पता था मेरी तक़दीर ही मुझे बेवफा मिलेगी।

-

दर्द तो बहुत है दिल में
पर दिखा नही सकते,
करते है मोहब्बत तुमसे
पर बता नही सकते।

Dard Shayari in English

dard bhari shayari - pyar ka dard shayari,dard bhari shayari for girlfriend,pyar me dhokha shayari,2 line dard bhari shayari,bewafaai dard shayari,judai ki shayari,gam ki shayari,dard shayari with images,dard shayari in urdu,pyar ka dard shayari,dard shayari in english
Dard Shayari in English

A duniya badi bewafa hai samajhna,
Kahin dil lagane ki koshish na karna.
Mere doston zindagi ek safer hai samajhna,
Kahin thaher jane ki koshish na karna.

-

Dil ke dard ko dil torne wale kya jana
Pyar ki rasmo ke yeh zamane wale kya jane
Hoti hai kitni taklif kabar ke niche
Yeh upar se phool charane wale kya jane

-

Kis Ko Qatil Main Kahun Kis Ko Masiha Samajhun; Sab Yahan Dost Hi Baithe Hain Kise Kya Samajhun; Wo Bhi Kya Din The Ki Har Veham Yaqeen Hota Tha; Ab Haqeeqat Nazar Aaye To Use Kya Samajhun

-

Uski Chahat Se Ikrar Na Karte..
Uski Kasmo Ka Aitbar Na Krte,
Agar Pata Hota Hum Sirf Mazak H Unke Liye,
Ksam Se Jaan De Dete Par Pyar Nahi Krte..!! 

-

Aankho Ki Thi Khata, Saza Dil Ne Payi Hai,Pyar Mein Hume Mili Yaar Se Sirf Ruswayi Hai,Tanhaiyo Ka Hai Daur Aur Dard Se Aankh Bhar Aayi Hai,Lamho Ki Thi Khata, Sadiyo Ki Saza Payi Hai.

-

Samjha Na Koi Dil Ki Baat Ko,
Dard Duniya Ne Bina Soche Hi De Diya,
Jo Sah Gaye Har Dard Ko Hum Chupke Se,
To Humko Hi Patthar-Dil Kah Diya…

-

Pyar Zindgi Ko Sajane Ke Liye Hai
Zindgi Dard Badhane Ke Liye Hai
Kash Koi To Padh Pata Meri Udasi Ko
Ye Hansta Hua Chehra To Sirf Dikhane Ke Liye Hai

-

Ek haseen pal ki zaroorat hai hume
Beete hue kal ki zarurat hai hume
Sara jamana ruth gaya humse
jo kabhi na ruthe aise dost ki zarurat hai hume

-

Chand Kaliyan Nishat Ki Chun Kar Muddaton Mahv-e-Yaas Rehta Hun; Tujh Se Milna Khushi Ki Baat Sahi Tujh Se Mil Kar Udaas Rehta Hun.

-

hum chah kar bhi use paa na ske
ye dard~e~dil sunaa na ske
socha ki smjh jayenge ankho se baaten
par unki ankhon se ankhe mila na sake
100+ Best Dard Shayari | दर्द भरी शायरी दिल को छू लेने वाली इस पोस्ट को पढ़ने के लिए आपका धन्यवाद। अगर आप हर दिन नयी लव शायरी, sad shayari आर हर तरह की हिन्दी शायरी पढ्न पसंद करते है तो PROShayari Blog पर visit करते रहिए।